आईपीएल के 13वें सीजन के 25वें मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) ने चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) को 37 रन से हरा दिया। दुबई में खेले गए मैच में बेंगलुरु ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए 170 रन का टारगेट दिया। इसके जवाब में चेन्नई 8 विकेट गंवाकर 132 रन ही बना सकी। चेन्नई के खिलाफ आरसीबी की यह रन के लिहाज से सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले 2010 में चेन्नई को 36 रन से हराया था।

आरसीबी के कप्तान विराट कोहली (90) ने आईपीएल में अपनी 38वीं फिफ्टी लगाई। इस जीत के साथ बेंगलुरु पॉइंट्स टेबल के टॉप-4 में पहुंच गई है।

सीएसके ने 2010 में 7 में से 5 मैच हारने के बाद जीता था खिताब

सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स ने 7 में से 5 मैच हारे हैं। टीम ने ओपनिंग मैच जीतने के बाद लगातार तीन मैच हारे। अपना 5वां मुकाबला जीतने के बाद टीम ने फिर लगातार दो मैच गंवा दिए। हालांकि, इससे पहले भी चेन्नई ने 2010 सीजन में अपने शुरुआती 7 में से 5 मैच हारे थे, लेकिन तब उन्होंने शानदार वापसी की थी। तब सीएसके ने आईपीएल खिताब के साथ चैम्पियंस लीग भी अपने नाम की थी।

चेन्नई के लिए रायडू और जगदीसन ने सबसे ज्यादा रन बनाए

लक्ष्य पीछा करने उतरी चेन्नई सुपर किंग्स की शुरुआत बेहद खराब रही थी। टीम ने 25 रन पर ही दो विकेट गंवा दिए थे। चेन्नई के लिए अंबाती रायडू ने सबसे ज्यादा 42 और डेब्यू मैच खेल रहे एन जगदीसन ने 33 रन की पारी खेली। वहीं, बेंगलुरु के क्रिस मॉरिस ने 3 और वाशिंगटन सुंदर ने 2 विकेट लिए, जबकि इसुरु उडाना और युजवेंद्र चहल को 1-1 विकेट मिला।

कोहली-पडिक्कल ने आरसीबी की पारी को संभाला

बेंगलुरु ने 4 विकेट गंवाकर 169 रन बनाए। टीम की शुरुआत ठीक नहीं रही थी। उसने 13 रन पर ही पहला विकेट गंवा दिया था। इसके बाद कप्तान विराट कोहली ने देवदत्त पडिक्कल के साथ दूसरे विकेट के लिए 53 रन की पार्टनरशिप करते हुई पारी को संभाला। कोहली ने 52 बॉल पर नाबाद 90 और पडिक्कल ने 34 बॉल पर 33 रन की पारी खेली।

इसके बाद कोहली ने शिवम दुबे के साथ 5वें विकेट के लिए 75 रन की नाबाद साझेदारी की। शिवम ने 14 बॉल पर 22 रन की पारी खेली। वहीं, चेन्नई के लिए शार्दुल ठाकुर ने सबसे ज्यादा 2 विकेट लिए। दीपक चाहर और सैम करन को भी 1-1 विकेट मिला।

शार्दुल ने एक ओवर में पडिक्कल-डिविलियर्स को आउट किया

शार्दुल ठाकुर ने पारी के 11वें ओवर में दो विकेट लिए। उन्होंने देवदत्त पडिक्कल (33) को फाफ डु प्लेसिस और एबी डिविलियर्स को विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी के हाथों कैच आउट कराया। डिविलियर्स खाता भी नहीं खोल सके। एरॉन फिंच 2 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें दीपक चाहर ने बोल्ड किया।