पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा ने कहा है कि चेन्नई सुपर किंग्स को अगले मेगा ऑक्शन में महेंद्र सिंह धोनी को रिटेन नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा, अगर 2021 में IPL के लिए मेगा ऑक्शन होता है, तो CSK को दूसरे प्रतिभावान खिलाड़ियों को ढूंढना चाहिए। अगर टीम धोनी को चुनती है, तो वे 15 करोड़ रुपए गंवा देंगे। धोनी को राइट टू मैच कार्ड से टीम धोनी को वापस ले सकती है।

चेन्नई सुपर किंग्स को धोनी को रिलीज करना चाहिए

आकाश चोपड़ा ने कहा की चेन्नई फ्रेंचाइजी को धोनी को रिलीज करना चाहिए और वापस ऑक्शन के पूल में डालना चाहिए। उन्होंने कहा, 'CSK मेगा ऑक्शन में धोनी को डाले। अगर मेगा ऑक्शन होता है, तो आपको उस खिलाड़ी के साथ 3 साल रहना होगा, पर क्या धोनी 3 साल खेल सकेंगे? मैं ये नहीं कह रहा कि आप धोनी को टीम में न रखें। वे जरूर अगला IPL खेलेंगे, लेकिन रिटेन करने से आपको उन्हें 15 करोड़ रुपए देने होंगे।'

मेगा ऑक्शन में 15 करोड़ रुपए का सही खिलाड़ी ढूंढ़े CSK

आकाश चोपड़ा ने कहा, 'अगर धोनी सिर्फ 2021 का सीजन खेलते हैं और 2022 नहीं खेल पाते हैं, तो फ्रेंचाइजी को 15 करोड़ रुपए वापस मिल जाएंगे। लेकिन टीम को 15 करोड़ की कीमत का सही प्लेयर तो नहीं मिल पाएगा। मेगा ऑक्शन का यही फायदा है कि अगर आपके पास पैसे हैं, तो आप एक अच्छी टीम बना सकते हो।'

राइट टू मैच कार्ड से धोनी को टीम में शामिल करे CSK

आकाश चोपड़ा ने कहा, 'अगर आप धोनी को मेगा ऑक्शन में डालते हैं, तो उन्हें आप राइट टू मैच कार्ड से वापस से टीम से जोड़ सकते हैं और आपको पैसे भी ज्यादा खर्च नहीं करने पड़ेंगे। वहीं बचे पैसों से आप सही खिलाड़ी खरीद पाएंगे। मुझे लगता है कि फ्रेंचाइजी को उन्हें रिलीज कर दोबारा खरीदना ही सही फैसला होगा।'

चेन्नई को मेगा ऑक्शन की सबसे ज्यादा जरूरत

आकाश चोपड़ा ने कहा कि मौजूदा 8 टीमों में से चेन्नई सुपर किंग्स ही एकमात्र ऐसी टीम है, जिसको मेगा ऑक्शन की सबसे ज्यादा जरूरत है। उनके पास मौजूदा समय में कोई ऐसा प्लेयर नहीं है, जिनको वे रिटेन कर सकें। अगर आपको फिर से टीम बनानी है, तो क्या आप फाफ डु प्लेसिस और अंबाती रायडू जैसे खिलाड़ियों पर ज्यादा पैसे खर्च करना चाहेंगे? मुझे नहीं लगता कि टीम अब सुरेश रैना और हरभजन सिंह को अपनी नई टीम के चुनना चाहेगी।