पूर्व दिग्गज स्पिनर शेन वार्न (Shane Warne) ने कहा कि इंग्लैंड के खिलाफ कम स्कोर वाले दूसरे एकदिवसीय मैच में मिली 24 रन की हार से ऑस्ट्रेलिया के 'मनोबल को बड़ा झटका' लगेगा। इंग्लैंड की टीम रविवार को इस मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए 9 विकेट पर 231 रन ही बना सकी थी, जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम 207 रन पर सिमट गई।

ऑस्ट्रेलिया का स्कोर एक समय 2 विकेट पर 144 रन था और लग रहा था कि टीम आसानी से मैच जीत जाएगी लेकिन फिर उसकी बल्लेबाजी ताश के पत्तों की तरह बिखर गई। वॉर्न ने वनडे सीरीज से पहले खेली गई टी20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज के पहले मुकाबले के प्रदर्शन को याद दिलाते हुए कहा, 'उस मैच से पहले ऑस्ट्रेलिया ने लंबे समय से क्रिकेट नहीं खेला था ऐसे में आप उनसे नरमी बरत सकते थे। इसके कारण वे हालांकि सीरीज गंवा बैठे थे।'

ऑस्ट्रेलिया उस मैच में भी 2 विकेट पर 124 रन बनाकर मजबूत स्थिति में था लेकिन फिर लगातार विकेट गिरने से वह 2 विकेट पर 148 रन ही बना सका और दो रन से मैच हार गया। इस ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने कहा, 'उसके बाद से टीम बहुत अच्छा कर रही थी लेकिन इस वनडे के नतीजे से उनके हौसले को चोट पहुंचेगी। वे ऐसे स्थिति से मैच जीतने के लिए गर्व करते रहे हैं।'

उन्होंने कहा, 'आमतौर पर यह टीम ऐसा नहीं करती है। उन्होंने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया, सिर्फ एरॉन फिंच लय में लग रहे थे। अब सीरीज 1-1 से बराबर है। ऐसी पटकथा कौन लिखता है?' इंग्लैंड की टीम एक समय 8 विकेट पर 149 रन पर मुश्किल स्थिति में था लेकिन टॉम करन (37) और आदिल रशीद (नाबाद 35) ने नौवें विकेट के लिए 76 रन जोड़ कर टीम बेहतर स्थिति में पहुंचाया।

वॉर्न ने गेंदबाजों पर निशाना साधते हुए कहा, 'वे थोड़े गलत थे। वे विकेट हासिल करने की कोशिश में थोड़े लालची हो गए थे।' सीरीज का तीसरा और निर्णायक मैच बुधवार को खेला जाएगा।