हेलो फ्रेंड्स कैसे हो आप लोग आशा करता हूं आप सब लोग अच्छे होंगे मैं भी ईश्वर की कृपा से अच्छा हूं थोड़ा बिजी हूं ऑफिस की काम में लेकिन फिर भी खुश रहने की कोशिश करता हूं। आज मैं आईसीसी वर्ल्ड कप के 25 वां मैच जोकि इंग्लैंड और श्रीलंका के बीच हुआ था इन दोनों टीमों का समीक्षा करने जा रहा हूं। टॉस जीतकर श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करने की फैसला लिया था । श्रीलंका की ओर से उनके सलामती बल्लेबाज के रूप में दिमुथ करुणारत्ने एवं उनके साथ कुशल परेरा आया था। दूसरे ओवर में ही करुणारत्ने की बल्ले की किनारा लग गया और कैच आउट हो गया था दिमुथ करुणारत्ने कूल 8 गेंद खेलकर मात्र 1 रन बनाकर आउट हो गए थे और उस समय श्रीलंका की स्कोर था मात्र 3 रन। उसके बाद बल्लेबाजी करने आया था श्रीलंका के कप्तान फर्नांडो। लेकिन तीसरे ओवर की पहला गेंद में कुशल परेरा ने मारने की कोशिश की और गेम जाकर सीधा फिल्डर के हाथ में पहुंच गया। कुशल परेरा ने 6 गेंद खेलकर 2 रन बना पाया था। अब बल्लेबाजी करने आया था कुशाल मेंडिस। यह एक श्रीलंका के महत्वपूर्ण खिलाड़ी है। दोनों ने मिलकर बहुत अच्छा खेल रहा था लेकिन अविष्का ने 38 गेंद पर कुल 49 रन बनाकर आउट हो गया था। कुसल मेंडिस कुछ समय तक अच्छा खेल रहा था लेकिन अंत में 68 गेंद पर 46 रन बनाकर आउट हो गया था। उसके बाद जीवन मेंडिस आया था लेकिन 1 गेंद खेलकर 0 रन बनाकर आउट हो गए थे। उसके पश्चात एक के बाद एक खिलाड़ी आया था और आउट होते जा रहा था लेकिन मैथ्यूस जो अपने दम पर खेल रहा था । मैथ्यूज ने बहुत अच्छा पारी खेला था और 114 गेम पर कूल 86 रन बनाकर नॉट आउट थे। अंत में श्रीलंका टीम 50 बार में 9 विकेट के नुकसान पर कुल 232 रन बना पाया था जो कि इतना अच्छा स्कोर नही था।

इस मैच में इंग्लैंड को जीतने के लिए 233 रन की जरूरत थी। इंग्लैंड की ओर से सलामती बल्लेबाजी के रूप में जॉनी बेयरस्टो और जेम्स विंस आया था। दोनों इस समय बहुत अच्छा फॉर्म में है। और दूसरी तरफ केंद्र बाजी करने आया था श्रीलंका के नंबर 01 गेंदबाज लसिथ मलिंगा। पहले ओवर की दूसरी गेंद पर जानी दोस्त को एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया। जो कि एक इंग्लैंड के लिए बहुत बड़ा झटका था और श्रीलंका के लिए खुशी के महल। इंग्लैंड को और एक बहुत बड़ा झटका तीन सुने 18 गेंद खेलकर 14 रन बनाकर आउट हो गए थे यह विकेट भी लसिथ मलिंगा के खाते में आया था। उसके पश्चात इंग्लैंड के कप्तान यान मोरगन और जो रूट ने कुछ ऑफर तक अच्छा खेला। लेकिन मर गन ज्यादा लंबा पारी खेल नहीं पाया और 35 गेम खेल कर 21 रन बनाकर आउट हो गए थे। इसी तरह इंग्लैंड के एक के बाद एक विकेट गिरता रहा । इस मैच में बेंन ट्रक ने बहुत अच्छा पारी खेला था। उन्होंने 89 गेंद खेलकर 82 रन बनाया था और नाबाद रहा। ऑस्ट्रेलिया ने कुल शौचालय पर खेलकर मात्र 212 रन बना पाया था और ऑल आउट हो गया था। इसी के साथ जिसको यह उम्मीद भी नहीं थी कि श्रीलंका इस मैच को जीत पाएगा इतना कम स्कोर के साथ। लेकिन श्रीलंका ने करके दिखाया और 20 रनों से अपने जीत हासिल कर लिया।

Quote - "Failure will never overtake me if my determination to succeed is strong enough".

Author- Og Mandino

With Regards @muchukunda