आज मैं आईसीसी विश्वकप के 31 वां मैच जोकि बांग्लादेश और अफगानिस्तान के बीच हुआ था इनके बारे में एक छोटी सी पोस्ट पर समीक्षा करने जा रहा हूं l टॉस जीतकर अफगानिस्तान के कप्तान पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया था। बांग्लादेश की ओर से सलामती बल्लेबाज के रूप में तमीम इकबाल और लिटन दास आए थे। दोनों बांग्लादेश टीम के अच्छे खिलाड़ी के रूप में जाना जाता है और इस समय दोनों खिलाड़ी अच्छे फॉर्म में है। दोनों शुरुआत में अच्छा खेल रहा था लेकिन एक गलत शर्ट में लिटन दास फस गया और फिल्डर के हाथ में कैच दे बैठे। लिटन दास ने 17 गेंद खेल कर 16 रन बनाकर आउट हो गए थे। तमीम इकबाल ने ज्यादा लम्बा पारी नहीं खेल पाए थे 53 गेंद खेलकर उन्होंने 36 रन बनाकर आउट हो गए थे। इस मैच में बांग्लादेश इतना अच्छा नहीं खेल पाया था लेकिन जितना जरूरी था सभी खिलाड़ी ने मिलकर अच्छा ही खेलl था। शाकिब अल हसन ने 59 गेंद खेलकर 51 रन बनाया था जो की टीम के लिए एक अहम भूमिका निभाया था छाती मुश्फिकर रहमान हमेशा अच्छा खेलता था और इस मैस मूवी उनका भूमिका बहुत अच्छा था उन्होंने 87 गेंद खेलकर 83 रन बनाया था। अंत में बांग्लादेश ने कुल 50 बार में 7 विकेट के नुकसान पर 262 रन की टारगेट बना दिया था l अफगानिस्तान के लिए यह एक बढ़ा टारगेट था क्योंकि बांग्लादेश की जो बोलिंग लाइन है वह बहुत ही अच्छी है ।

दूसरी पारी में अफगानिस्तान को जीतने के लिए 263 रन की जरूरत थी जो कि इतनी लंबा टारगेट नहीं थी लेकिन उनके लिए बहुत बड़ा टारगेट थी। अफगानिस्तान जो कि अभी तक इस वर्ल्ड कप में एक भी मैच जीत नहीं पाया था इनके लिए यह एक बहुत बड़ी लड़ाई है। अफगानिस्तान की टीम से सलामती बल्लेबाज के रूप में रहमत शाह और गुलबुद्दीन नईब आया था। सलामती बल्लेबाजों ने तो बहुत अच्छा खेल रहा था, एक समय लग रहा था कि अफगानिस्तान इस मैच में जीत हासिल करेगा परंतु जैसे ही रहमत शाह आउट हो गए थे उसके पश्चात कोई भी खिलाड़ी आकर ज्यादा देर तक टिक नहीं पाया था एक के बाद एक आ रहा था और कुछ रन बटोर के आउट हो जा रहा था l अंत में कुल 50 ओवर में 10 विकेट के नुकसान पर मात्र 200 रन बना पाया था जो इनके लिए विश्व कप से बाहर जाने का रास्ता दिखा दिया था। बांग्लादेश ने इस मैच में बहुत अच्छे गेंदबाजी किया था इसी के कारण अफगानिस्तान को 200 रन पर ही ऑल आउट कर दिया था। अंत में बांग्लादेश 62 रनों से अफगानिस्तान से जीत हासिल किया था l

Quote - "Failure will never overtake me if my determination to succeed is strong enough".

Author- Og Mandino

With Regards @muchukunda