Cricket / scorumcommunity

muchukunda
इंडिया बनाम वेस्टइंडीज पर समीक्षा मैच
source आईसीसी वर्ल्ड कप के 34 वां मैच इंडिया और वेस्टइंडीज के बीच हो चुका था। इसमें इंडिया ने टॉस जीतकर कप्तान कोहली पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया था। इंडिया की ओर से सलामी बल्लेबाजी के रूप में रोहित शर्मा और दूसरी ओर से केएल राहुल आया था। केएल राहुल सलामी बल्लेबाज करने इसलिए आया था कि कुछ दिन पहले शिखर धवन जो की इंडिया की सलामी बल्लेबाज के रूप में खेलता था उनको चोट लगने के कारण उनकी जगह पर अभी केएल राहुल उनकी जगह पर बल्लेबाजी करने आया था। इंडिया टीम की शुरुआत इतनी अच्छी नहीं थी क्योंकि तीसरी ओवर में ही रोहित शर्मा जोकि इंडिया टीम के एक अच्छे बल्लेबाज के रूप में जाना जाता है वह आज भी इतनी लंबी पारी नहीं खेल पाया था और 23 गेंद खेलकर मात्र 18 रन बनाकर आउट हो गए थे। उसके पश्चात भारतीय टीम का कप्तान विराट कोहली जिस कारण मशीन के नाम पर जाना जाता है उन्होंने बल्लेबाजी करने आया था। दोनों ने मिलकर एक अच्छी पारी खेला था और अंतिम में केएल राहुल 64 गेंद खेलकर 48 रन बनाकर आउट हो गए थे। इसी तरह भारतीय बल्लेबाज एक के बाद एक आ रहे थे और कुछ रन बटोर के आउट हो जा रहे थे लेकिन भारतीय पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी मैच को पकड़ के रखा था और अंतिम तक खेल कर कूल 61 गेंद खेलकर 56 रन बनाया था और नाबाद रहा। विराट कोहली जो हमेशा अच्छा खेलता है उन्होंने 82 गेंद खेल कर 72 रन बनाया था और एक अच्छी पारी खेलकर आउट हो गए थे। अंत में भारतीय टीम कुल 50 ओवर में 07 विकेट के नुकसान पर 268 रन बनाया था l source दूसरी पारी में वेस्टइंडीज को जीतने के लिए 269 रन की जरूरत थी जोकि पीछा करना इतना आसान नहीं थी। इस साल आईसीसी वर्ल्ड कप-2019 के दौरान वेस्टइंडीज टीम की प्रदर्शन इतनी अच्छी नहीं थी। वेस्टइंडीज की टीम से सलामी बल्लेबाज के रूप में क्रिस गेल और सुनील एंब्रेस आया था। सुनील एंब्रिस जोकि इससे पहले मौका नहीं मिला था इनके लिए एक नया शुरुआत होगा। क्रिस गेल शुरू से दबाव में खेल रहा था और अंत में उसी दबाव के साथ 19 गेंद में मात्र 6 रन बनाकर आउट हो गए थे। जो कि वेस्टइंडीज के लिए एक बहुत बड़ा झटका था और इंडिया के लिए बहुत बड़ा विकेट। उसके पश्चात बल्लेबाजी करने आया था शे होप जो वेस्टइंडीज के एक बहुत अच्छे खिलाड़ी है उनके ऊपर टीम को बहुत भरोसा है। शे होप आने के पश्चात ज्यादा अच्छा नहीं खेल पा रहा था क्योंकि उस समय रन रेट बहुत कम था और क्रिस गेल आउट होने जाने के बाद इनके ऊपर बहुत बड़ा दबाव था। इसी दौरान मोहम्मद शमी की गेंद इनस्विंग होकर जाकर स्टंप हीट हो गया और शे होप की पारी यहीं समाप्त हो गया था। शे होप ने 10 गेंद खेलकर मात्र 5 रन बनाकर आउट हो गया था। इसी तरह एक के बाद एक विकेट आउट हो जा रहे थे कोई भी ऐसा खिलाड़ी नहीं था जो पारी को संभाल सकें। अंत में कुल 34.2 गेंद में 10 विकेट के नुकसान पर मात्र 143 रन बनाकर भारत के सामने हार गए थे। इसी के साथ वेस्टइंडीज टीम की वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल की जगह से बहुत दूर हो गए थे और भारत इन 2 पॉइंट के साथ कूल 11 पॉइंट हो गया था और सेमीफाइनल के बहुत नजदीक पहुंच गए थे। Quote - "Failure will never overtake me if my determination to succeed is strong enough". Author- Og Mandino With Regards @muchukunda
0.00
8
0

muchukunda
इंडिया बनाम वेस्टइंडीज पर समीक्षा मैच
source आईसीसी वर्ल्ड कप के 34 वां मैच इंडिया और वेस्टइंडीज के बीच हो चुका था। इसमें इंडिया ने टॉस जीतकर कप्तान कोहली पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया था। इंडिया की ओर से सलामी बल्लेबाजी के रूप में रोहित शर्मा और दूसरी ओर से केएल राहुल आया था। केएल राहुल सलामी बल्लेबाज करने इसलिए आया था कि कुछ दिन पहले शिखर धवन जो की इंडिया की सलामी बल्लेबाज के रूप में खेलता था उनको चोट लगने के कारण उनकी जगह पर अभी केएल राहुल उनकी जगह पर बल्लेबाजी करने आया था। इंडिया टीम की शुरुआत इतनी अच्छी नहीं थी क्योंकि तीसरी ओवर में ही रोहित शर्मा जोकि इंडिया टीम के एक अच्छे बल्लेबाज के रूप में जाना जाता है वह आज भी इतनी लंबी पारी नहीं खेल पाया था और 23 गेंद खेलकर मात्र 18 रन बनाकर आउट हो गए थे। उसके पश्चात भारतीय टीम का कप्तान विराट कोहली जिस कारण मशीन के नाम पर जाना जाता है उन्होंने बल्लेबाजी करने आया था। दोनों ने मिलकर एक अच्छी पारी खेला था और अंतिम में केएल राहुल 64 गेंद खेलकर 48 रन बनाकर आउट हो गए थे। इसी तरह भारतीय बल्लेबाज एक के बाद एक आ रहे थे और कुछ रन बटोर के आउट हो जा रहे थे लेकिन भारतीय पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी मैच को पकड़ के रखा था और अंतिम तक खेल कर कूल 61 गेंद खेलकर 56 रन बनाया था और नाबाद रहा। विराट कोहली जो हमेशा अच्छा खेलता है उन्होंने 82 गेंद खेल कर 72 रन बनाया था और एक अच्छी पारी खेलकर आउट हो गए थे। अंत में भारतीय टीम कुल 50 ओवर में 07 विकेट के नुकसान पर 268 रन बनाया था l source दूसरी पारी में वेस्टइंडीज को जीतने के लिए 269 रन की जरूरत थी जोकि पीछा करना इतना आसान नहीं थी। इस साल आईसीसी वर्ल्ड कप-2019 के दौरान वेस्टइंडीज टीम की प्रदर्शन इतनी अच्छी नहीं थी। वेस्टइंडीज की टीम से सलामी बल्लेबाज के रूप में क्रिस गेल और सुनील एंब्रेस आया था। सुनील एंब्रिस जोकि इससे पहले मौका नहीं मिला था इनके लिए एक नया शुरुआत होगा। क्रिस गेल शुरू से दबाव में खेल रहा था और अंत में उसी दबाव के साथ 19 गेंद में मात्र 6 रन बनाकर आउट हो गए थे। जो कि वेस्टइंडीज के लिए एक बहुत बड़ा झटका था और इंडिया के लिए बहुत बड़ा विकेट। उसके पश्चात बल्लेबाजी करने आया था शे होप जो वेस्टइंडीज के एक बहुत अच्छे खिलाड़ी है उनके ऊपर टीम को बहुत भरोसा है। शे होप आने के पश्चात ज्यादा अच्छा नहीं खेल पा रहा था क्योंकि उस समय रन रेट बहुत कम था और क्रिस गेल आउट होने जाने के बाद इनके ऊपर बहुत बड़ा दबाव था। इसी दौरान मोहम्मद शमी की गेंद इनस्विंग होकर जाकर स्टंप हीट हो गया और शे होप की पारी यहीं समाप्त हो गया था। शे होप ने 10 गेंद खेलकर मात्र 5 रन बनाकर आउट हो गया था। इसी तरह एक के बाद एक विकेट आउट हो जा रहे थे कोई भी ऐसा खिलाड़ी नहीं था जो पारी को संभाल सकें। अंत में कुल 34.2 गेंद में 10 विकेट के नुकसान पर मात्र 143 रन बनाकर भारत के सामने हार गए थे। इसी के साथ वेस्टइंडीज टीम की वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल की जगह से बहुत दूर हो गए थे और भारत इन 2 पॉइंट के साथ कूल 11 पॉइंट हो गया था और सेमीफाइनल के बहुत नजदीक पहुंच गए थे। Quote - "Failure will never overtake me if my determination to succeed is strong enough". Author- Og Mandino With Regards @muchukunda
0.00
8
0

muchukunda
इंडिया बनाम वेस्टइंडीज पर समीक्षा मैच
source आईसीसी वर्ल्ड कप के 34 वां मैच इंडिया और वेस्टइंडीज के बीच हो चुका था। इसमें इंडिया ने टॉस जीतकर कप्तान कोहली पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया था। इंडिया की ओर से सलामी बल्लेबाजी के रूप में रोहित शर्मा और दूसरी ओर से केएल राहुल आया था। केएल राहुल सलामी बल्लेबाज करने इसलिए आया था कि कुछ दिन पहले शिखर धवन जो की इंडिया की सलामी बल्लेबाज के रूप में खेलता था उनको चोट लगने के कारण उनकी जगह पर अभी केएल राहुल उनकी जगह पर बल्लेबाजी करने आया था। इंडिया टीम की शुरुआत इतनी अच्छी नहीं थी क्योंकि तीसरी ओवर में ही रोहित शर्मा जोकि इंडिया टीम के एक अच्छे बल्लेबाज के रूप में जाना जाता है वह आज भी इतनी लंबी पारी नहीं खेल पाया था और 23 गेंद खेलकर मात्र 18 रन बनाकर आउट हो गए थे। उसके पश्चात भारतीय टीम का कप्तान विराट कोहली जिस कारण मशीन के नाम पर जाना जाता है उन्होंने बल्लेबाजी करने आया था। दोनों ने मिलकर एक अच्छी पारी खेला था और अंतिम में केएल राहुल 64 गेंद खेलकर 48 रन बनाकर आउट हो गए थे। इसी तरह भारतीय बल्लेबाज एक के बाद एक आ रहे थे और कुछ रन बटोर के आउट हो जा रहे थे लेकिन भारतीय पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी मैच को पकड़ के रखा था और अंतिम तक खेल कर कूल 61 गेंद खेलकर 56 रन बनाया था और नाबाद रहा। विराट कोहली जो हमेशा अच्छा खेलता है उन्होंने 82 गेंद खेल कर 72 रन बनाया था और एक अच्छी पारी खेलकर आउट हो गए थे। अंत में भारतीय टीम कुल 50 ओवर में 07 विकेट के नुकसान पर 268 रन बनाया था l source दूसरी पारी में वेस्टइंडीज को जीतने के लिए 269 रन की जरूरत थी जोकि पीछा करना इतना आसान नहीं थी। इस साल आईसीसी वर्ल्ड कप-2019 के दौरान वेस्टइंडीज टीम की प्रदर्शन इतनी अच्छी नहीं थी। वेस्टइंडीज की टीम से सलामी बल्लेबाज के रूप में क्रिस गेल और सुनील एंब्रेस आया था। सुनील एंब्रिस जोकि इससे पहले मौका नहीं मिला था इनके लिए एक नया शुरुआत होगा। क्रिस गेल शुरू से दबाव में खेल रहा था और अंत में उसी दबाव के साथ 19 गेंद में मात्र 6 रन बनाकर आउट हो गए थे। जो कि वेस्टइंडीज के लिए एक बहुत बड़ा झटका था और इंडिया के लिए बहुत बड़ा विकेट। उसके पश्चात बल्लेबाजी करने आया था शे होप जो वेस्टइंडीज के एक बहुत अच्छे खिलाड़ी है उनके ऊपर टीम को बहुत भरोसा है। शे होप आने के पश्चात ज्यादा अच्छा नहीं खेल पा रहा था क्योंकि उस समय रन रेट बहुत कम था और क्रिस गेल आउट होने जाने के बाद इनके ऊपर बहुत बड़ा दबाव था। इसी दौरान मोहम्मद शमी की गेंद इनस्विंग होकर जाकर स्टंप हीट हो गया और शे होप की पारी यहीं समाप्त हो गया था। शे होप ने 10 गेंद खेलकर मात्र 5 रन बनाकर आउट हो गया था। इसी तरह एक के बाद एक विकेट आउट हो जा रहे थे कोई भी ऐसा खिलाड़ी नहीं था जो पारी को संभाल सकें। अंत में कुल 34.2 गेंद में 10 विकेट के नुकसान पर मात्र 143 रन बनाकर भारत के सामने हार गए थे। इसी के साथ वेस्टइंडीज टीम की वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल की जगह से बहुत दूर हो गए थे और भारत इन 2 पॉइंट के साथ कूल 11 पॉइंट हो गया था और सेमीफाइनल के बहुत नजदीक पहुंच गए थे। Quote - "Failure will never overtake me if my determination to succeed is strong enough". Author- Og Mandino With Regards @muchukunda
0.00
8
0
0.00
5
0
0.00
5
0
0.00
5
0
0.00
5
0
0.00
5
0
0.00
5
0
0.00
4
0
0.00
4
0
0.00
4
0
0.00
6
0
0.00
6
0
0.00
6
0
0.00
4
0
0.00
4
0
0.00
4
0
0.00
6
0
0.00
6
0
0.00
6
0
0.00
9
0
0.00
9
0
0.00
9
0