Cricket / virat kohli

ghlove
धोनी-कोहली के धमाल से जीता भारत, इसे मिला मैन ऑफ़ द मैच, टूटे 7 बड़े रिकॉर्ड
Source भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच जारी तीन एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला का दूसरा मुकाबला एडिलेड के मैदान पर खेला गया मुकाबले के दौरान भारतीय क्रिकेट टीम ने अपने बल्लेबाजों और गेंदबाजों के बेहद शानदार प्रदर्शन की बदौलत तीन मैचों की श्रृंखला में एक-एक की बराबरी कर ली। अब श्रृंखला का तीसरा और आखिरी मुकाबला जो भी टीम जीतेगी श्रृंखला उसी के नाम होगी। मैच के दौरान ऑस्ट्रेलिया ने पहले टॉस जीता और बल्लेबाजी करने का फैसला किया पहले बल्लेबाजी करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने 9 विकेट खोकर 298 रन बनाए जवाब में उतरी टीम इंडिया चार विकेट खोकर विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी की शानदार प्रदर्शन की बदौलत 49.2 ओवर में ही लक्ष्य को हासिल कर लिया। धोनी बने संकटमोचक मैच के दौरान भारतीय क्रिकेटर के प्रदर्शन पर नजर डालें तो टीम इंडिया के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने तीन विकेट तथा भुनेश्वर कुमार ने 4 विकेट झटके जबकि बल्लेबाजी पर नजर डालने दो टीम के कप्तान विराट कोहली ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 104 रनों की शतकीय पारी खेली। वही टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और मौजूदा विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ने भारत के लिए संकटमोचक पारी खेलते हुए 54 गेंदों पर नाबाद 55 रन बनाए। महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी की ओर रुख करें तो उन्होंने शुरुआती में धीमी पारी खेली लेकिन आखिरी तक जाते-जाते उन्होंने अपने बल्लेबाजी स्ट्राइक रेट में बढ़ोतरी की और 49 वें ओवर की पहली गेंद पर छक्का लगाकर तथा दूसरी गेंद पर सिंगल लेकर टीम को जीत दिला दी। धोनी के बारे में बोले एरोन फिंच वहीं भारतीय क्रिकेट टीम की जीत के बाद भारतीय क्रिकेट टीम की जीत के बाद प्रेजेंटेशन में पहुंचे ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एरोन फिंच ने भी महेंद्र सिंह धोनी के प्रति अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त की। एरोन फिंच का मानना था कि जब महेंद्र सिंह धोनी क्रीज पर आए थे और वह धीरे बल्लेबाजी कर रहे थे उस दौरान उनको ऐसा लग रहा था कि महेंद्र सिंह धोनी की क्रीज पर होने पर ऑस्ट्रेलिया को ज्यादा नुकसान नहीं होगा क्योंकि महेंद्र सिंह धोनी काफी संयम भरे अंदाज में बल्लेबाजी कर रहे थे। एरोन फिंच ने बताया कि आखिरी में जब धोनी अपनी टीम को जीत के करीब लेकर जाने लगे तो उन्हें कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि कौन से गेंदबाज ओवर करवाना चाहिए। एरोन फिंच ने अभी बताया कि अगर वह महेंद्र सिंह धोनी का विकेट जल्दी ले लेते तो शायद मुकाबला ऑस्ट्रेलिया के नाम होता। कप्तान विराट कोहली को उनके बेहतरीन शतक के लिए मैन ऑफ़ द मैच चुना गया। मैच में टूटे ये 7 रिकॉर्ड 1.विराट ने 64 अंतर्राष्ट्रीय शतक के साथ कुमार संगकारा को लिस्ट में पीछे छोड़ दिया। 2.सर्वाधिक वनडे शतक के मामले में विराट 39 शतक के साथ दूसरे नंबर पर हैं। 3.सिराज ने डेब्यू में सर्वाधिक रन देने के मामले में दूसरे स्थान पर आकर अनचाहा रिकॉर्ड बना दिया। 4.विराट अब सर्वाधिक वनडे रन में दिलशान से आगे आ गए हैं। 5.वनडे ने सलामी बल्लेबाजों के साझेदारी के रिकॉर्ड में रोहित शर्मा और शिखर धवन की जोड़ी चौथे स्थान पर आ गई है। 6.एडिलेड में यह दूसरा सबसे बड़ा सफल लक्ष्य है। 7.धोनी ने अर्द्धशतक के मामले में 7वांस्थान हासिल किया।
0.00
8
0