WWE / wwe news

yosaw
लगातार दो साल आयोजन के बाद डब्लूडब्लूई ने अचानक क्यों बंद किये भारत में इवेंट
डब्लूडब्लूई अपने ब्रांड को दुनियाभर में फ़ैलाने की कोशिश करती रहती है। उनके इसी रणनीति के कारण डब्लूडब्लूई कई दशकों से दुनिया की सबसे बड़ी प्रो रेसलिंग कंपनी बनी रही है। अपने आक्रामक मार्केटिंग से ही डब्लूडब्लूई ने दुनिया कई नए मार्किट में अपना कदम रखा और सफलता प्राप्त की। इसका ही नतीजा है सऊदी अरेबिया जैसे देश में डब्लूडब्लूई को बड़ी सफलता मिली। भारत डब्लूडब्लूई का एक बड़ा मार्किट भारत में डब्लूडब्लूई काफी पहले से फॉलो की जाती है। डब्लूडब्लूई के एटीट्यूड एरा ने तो भारत में धूम मचाई थी। डब्लूडब्लूई के सुपरस्टार जैसे द रॉक, जॉन सीना, रोमन रिगंस भारत में किसी बॉलीवुड स्टार की तरह ही लोकप्रिय है। सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, यूट्यूब, ट्विटर पर डब्लूडब्लूई की सबसे ज्यादा फॉलोइंग भारत से ही आती है। ऐसे में डब्लूडब्लूई ने भारत के मार्किट को पूरी तरह काबिज़ करने अपना पहला इवेंट 2016 में आयोजित किया। डब्लूडब्लूई का भारत में पहला इवेंट पहले इवेंट के तयारी के चलते डब्लूडब्लूई ने भारतीय रेसलर जिंदर महाल को बड़ा पुश दिया। जिंदर महाल ने रैंडी ओर्टन जैसे बड़े रेसलर को हराकर चैंपियन शिप बेल्ट जीता। जिससे डब्लूडब्लूई के इंडिया इवेंट के लिए भारत में डब्लूडब्लूई को लेकर सकारात्मक वातावरण तैयार हुआ। कई सारे रेसलर भारत आए और भारतीय जनता के सामने अपने मूव्स का प्रदर्शन किया। पहला इवेंट काफी कामयाब रहा। डब्लूडब्लूई का भारत में दूसरा इवेंट बाद में डब्लूडब्लूई 2017 में भारत में दूसरा इवेंट रखा। इस बार डब्लूडब्लूई ने बड़ी गलती कर दी। इस इवेंट के लिए टिकट प्राइस बहुत ज्यादा रख दी। भारत में US जितनी टिकट प्राइस रखने से टिकट का सेल अच्छा नहीं हुआ। परिणाम स्वरुप ये इवेंट डब्लूडब्लूई के लिए असफल रहा। टिकट प्राइस कम और ऑडियन्स ज्यादा इस हिसाब से डब्लूडब्लूई इस इवेंट का आयोजन करती तो परिणाम अलग होता। यहाँ डब्लूडब्लूई की रिसर्च टीम फ़ैल हो गयी। भारत को लेके डब्लूडब्लूई की योजनाएं इस दूसरे इवेंट की असफलता के बाद 2018 और 19 में भारत में इवेंट को लेकर डब्लूडब्लूई ने कुछ योजना नहीं बनाई। लेकिन आने वाले दिनों में हमें जरूर भारत में डब्लूडब्लूई का इवेंट देखने मिलेगा। डब्लूडब्लूई जानती है कि भारत एक बड़ा मार्किट है ऐसे में भारत में काफी बड़ा निवेश करने में वह बिलकुल पीछे नहीं हटेगी। इसके अलावा भारत में डब्लूडब्लूई परफॉरमेंस सेंटर भी खोलने वाली है, जिससे भारत से नए टैलेंट उभरकर औए। जिससे डब्लूडब्लूई का भारत में ज्यादा प्रसार हो सके।
0.00
0
0

yosaw
लगातार दो साल आयोजन के बाद डब्लूडब्लूई ने अचानक क्यों बंद किये भारत में इवेंट
डब्लूडब्लूई अपने ब्रांड को दुनियाभर में फ़ैलाने की कोशिश करती रहती है। उनके इसी रणनीति के कारण डब्लूडब्लूई कई दशकों से दुनिया की सबसे बड़ी प्रो रेसलिंग कंपनी बनी रही है। अपने आक्रामक मार्केटिंग से ही डब्लूडब्लूई ने दुनिया कई नए मार्किट में अपना कदम रखा और सफलता प्राप्त की। इसका ही नतीजा है सऊदी अरेबिया जैसे देश में डब्लूडब्लूई को बड़ी सफलता मिली। भारत डब्लूडब्लूई का एक बड़ा मार्किट भारत में डब्लूडब्लूई काफी पहले से फॉलो की जाती है। डब्लूडब्लूई के एटीट्यूड एरा ने तो भारत में धूम मचाई थी। डब्लूडब्लूई के सुपरस्टार जैसे द रॉक, जॉन सीना, रोमन रिगंस भारत में किसी बॉलीवुड स्टार की तरह ही लोकप्रिय है। सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, यूट्यूब, ट्विटर पर डब्लूडब्लूई की सबसे ज्यादा फॉलोइंग भारत से ही आती है। ऐसे में डब्लूडब्लूई ने भारत के मार्किट को पूरी तरह काबिज़ करने अपना पहला इवेंट 2016 में आयोजित किया। डब्लूडब्लूई का भारत में पहला इवेंट पहले इवेंट के तयारी के चलते डब्लूडब्लूई ने भारतीय रेसलर जिंदर महाल को बड़ा पुश दिया। जिंदर महाल ने रैंडी ओर्टन जैसे बड़े रेसलर को हराकर चैंपियन शिप बेल्ट जीता। जिससे डब्लूडब्लूई के इंडिया इवेंट के लिए भारत में डब्लूडब्लूई को लेकर सकारात्मक वातावरण तैयार हुआ। कई सारे रेसलर भारत आए और भारतीय जनता के सामने अपने मूव्स का प्रदर्शन किया। पहला इवेंट काफी कामयाब रहा। डब्लूडब्लूई का भारत में दूसरा इवेंट बाद में डब्लूडब्लूई 2017 में भारत में दूसरा इवेंट रखा। इस बार डब्लूडब्लूई ने बड़ी गलती कर दी। इस इवेंट के लिए टिकट प्राइस बहुत ज्यादा रख दी। भारत में US जितनी टिकट प्राइस रखने से टिकट का सेल अच्छा नहीं हुआ। परिणाम स्वरुप ये इवेंट डब्लूडब्लूई के लिए असफल रहा। टिकट प्राइस कम और ऑडियन्स ज्यादा इस हिसाब से डब्लूडब्लूई इस इवेंट का आयोजन करती तो परिणाम अलग होता। यहाँ डब्लूडब्लूई की रिसर्च टीम फ़ैल हो गयी। भारत को लेके डब्लूडब्लूई की योजनाएं इस दूसरे इवेंट की असफलता के बाद 2018 और 19 में भारत में इवेंट को लेकर डब्लूडब्लूई ने कुछ योजना नहीं बनाई। लेकिन आने वाले दिनों में हमें जरूर भारत में डब्लूडब्लूई का इवेंट देखने मिलेगा। डब्लूडब्लूई जानती है कि भारत एक बड़ा मार्किट है ऐसे में भारत में काफी बड़ा निवेश करने में वह बिलकुल पीछे नहीं हटेगी। इसके अलावा भारत में डब्लूडब्लूई परफॉरमेंस सेंटर भी खोलने वाली है, जिससे भारत से नए टैलेंट उभरकर औए। जिससे डब्लूडब्लूई का भारत में ज्यादा प्रसार हो सके।
0.00
0
0

yosaw
लगातार दो साल आयोजन के बाद डब्लूडब्लूई ने अचानक क्यों बंद किये भारत में इवेंट
डब्लूडब्लूई अपने ब्रांड को दुनियाभर में फ़ैलाने की कोशिश करती रहती है। उनके इसी रणनीति के कारण डब्लूडब्लूई कई दशकों से दुनिया की सबसे बड़ी प्रो रेसलिंग कंपनी बनी रही है। अपने आक्रामक मार्केटिंग से ही डब्लूडब्लूई ने दुनिया कई नए मार्किट में अपना कदम रखा और सफलता प्राप्त की। इसका ही नतीजा है सऊदी अरेबिया जैसे देश में डब्लूडब्लूई को बड़ी सफलता मिली। भारत डब्लूडब्लूई का एक बड़ा मार्किट भारत में डब्लूडब्लूई काफी पहले से फॉलो की जाती है। डब्लूडब्लूई के एटीट्यूड एरा ने तो भारत में धूम मचाई थी। डब्लूडब्लूई के सुपरस्टार जैसे द रॉक, जॉन सीना, रोमन रिगंस भारत में किसी बॉलीवुड स्टार की तरह ही लोकप्रिय है। सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, यूट्यूब, ट्विटर पर डब्लूडब्लूई की सबसे ज्यादा फॉलोइंग भारत से ही आती है। ऐसे में डब्लूडब्लूई ने भारत के मार्किट को पूरी तरह काबिज़ करने अपना पहला इवेंट 2016 में आयोजित किया। डब्लूडब्लूई का भारत में पहला इवेंट पहले इवेंट के तयारी के चलते डब्लूडब्लूई ने भारतीय रेसलर जिंदर महाल को बड़ा पुश दिया। जिंदर महाल ने रैंडी ओर्टन जैसे बड़े रेसलर को हराकर चैंपियन शिप बेल्ट जीता। जिससे डब्लूडब्लूई के इंडिया इवेंट के लिए भारत में डब्लूडब्लूई को लेकर सकारात्मक वातावरण तैयार हुआ। कई सारे रेसलर भारत आए और भारतीय जनता के सामने अपने मूव्स का प्रदर्शन किया। पहला इवेंट काफी कामयाब रहा। डब्लूडब्लूई का भारत में दूसरा इवेंट बाद में डब्लूडब्लूई 2017 में भारत में दूसरा इवेंट रखा। इस बार डब्लूडब्लूई ने बड़ी गलती कर दी। इस इवेंट के लिए टिकट प्राइस बहुत ज्यादा रख दी। भारत में US जितनी टिकट प्राइस रखने से टिकट का सेल अच्छा नहीं हुआ। परिणाम स्वरुप ये इवेंट डब्लूडब्लूई के लिए असफल रहा। टिकट प्राइस कम और ऑडियन्स ज्यादा इस हिसाब से डब्लूडब्लूई इस इवेंट का आयोजन करती तो परिणाम अलग होता। यहाँ डब्लूडब्लूई की रिसर्च टीम फ़ैल हो गयी। भारत को लेके डब्लूडब्लूई की योजनाएं इस दूसरे इवेंट की असफलता के बाद 2018 और 19 में भारत में इवेंट को लेकर डब्लूडब्लूई ने कुछ योजना नहीं बनाई। लेकिन आने वाले दिनों में हमें जरूर भारत में डब्लूडब्लूई का इवेंट देखने मिलेगा। डब्लूडब्लूई जानती है कि भारत एक बड़ा मार्किट है ऐसे में भारत में काफी बड़ा निवेश करने में वह बिलकुल पीछे नहीं हटेगी। इसके अलावा भारत में डब्लूडब्लूई परफॉरमेंस सेंटर भी खोलने वाली है, जिससे भारत से नए टैलेंट उभरकर औए। जिससे डब्लूडब्लूई का भारत में ज्यादा प्रसार हो सके।
0.00
0
0
0.00
3
0
0.00
3
0
0.00
3
0
0.00
0
0
0.00
0
0
0.00
0
0
0.00
1
0
0.00
1
0
0.00
1
0
0.00
1
0
0.00
1
0
0.00
1
0

parvez22
WWE
0.00
6
0

parvez22
WWE
0.00
6
0

parvez22
WWE
0.00
6
0
0.00
2
2
0.00
2
2
0.00
2
2
0.00
3
2
0.00
3
2
0.00
3
2